मंगलवार, 13 नवंबर 2012

दीपावली एक शुभकामना है


                                                                        फोटो :राजेश उत्‍साही
 बाजार दिवाली का सजा है
रंग बिरंगी छाई ध्‍वजा है
जिनकी जेब में आए हैं पैसे
असली तो उनका मजा है
खुशियों से उनका सामना है
दीपावली एक शुभकामना है
****
साल भर सपने हैं देखे
बांचा करे अपने ही लेखे
साकार होने की जो बारी
गए हैं रसातल में फेंके
कहें किससे अपनी चाहना है
दीपावली एक शुभकामना है
****
जमाने की रीत यही है
जो गलत है वही सही है
हम तो फर्ज पर हैं कायम
सबके सामने अपनी बही है
दामन हौसले का थामना है
दीपावली एक शुभकामना है
****
 दीप अपने मन क बनाएं
में नेह की बाती जलाएं
करकट सब जले कलुष का
समभाव का प्रकाश फैलाएं
जीवन चार दिन पाहुना है
दीपावली एक शुभकामना है
 0 राजेश उत्‍साही


10 टिप्‍पणियां:

  1. मन का कूड़ा कर्कट जल जाये तो सच ही दिवाली शुभकामना है .... सुंदर प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  2. अति सुंदर कहा है..शुभकामना..

    उत्तर देंहटाएं
  3. यह शुभ-कामनायें मन को स्पंदित करती रहें!

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सराहनीय प्रस्तुति.
    बहुत सुंदर बात कही है इन पंक्तियों में. दिल को छू गयी. आभार !
    बेह्तरीन अभिव्यक्ति .बहुत अद्भुत अहसास.सुन्दर प्रस्तुति.
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये आपको और आपके समस्त पारिवारिक जनो को !

    मंगलमय हो आपको दीपो का त्यौहार
    जीवन में आती रहे पल पल नयी बहार
    ईश्वर से हम कर रहे हर पल यही पुकार
    लक्ष्मी की कृपा रहे भरा रहे घर द्वार..

    उत्तर देंहटाएं
  5. अनुपम भाव संयोजित किये हैं आपने इस अभिव्‍यक्ति में

    दीप पर्व की अनंत शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  6. bahut badiya saarthak prastuti..
    Deepparv ki haardik shubhkamnayen!

    उत्तर देंहटाएं

गुलमोहर के फूल आपको कैसे लगे आप बता रहे हैं न....

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails